इन 3 कामों में शर्म करने वाला व्यक्ति नहीं कर पाता तरक्की... - Hindi Nuskhe

इन 3 कामों में शर्म करने वाला व्यक्ति नहीं कर पाता तरक्की…

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका।

इन 3 कामों में शर्म करने वाला व्यक्ति जीवन भर नहीं कर पाता तरक्की हमेशा गरीबी रहता है कौन से कामों में शर्म करने वाला आइए जानते हैं।

अचार्य चाणक्य जी ने जीवन से संबंधित हर पहलू तथा नीतियों का बहुत ही बेहतर तरीके से उल्लेख किया है चाणक्य की नीतियां प्राचीन समय में जितनी कारगर थी उतनी ही आज भी है जिन पर अमल करके व्यक्ति खुशहाल जीवन यापन कर सकता है।

या एक सामान्य सी बात है कि हर व्यक्ति के जीवन में सफलता असफलता का दौर चलता ही रहता है लेकिन अगर आप आचार्य चाणक्य जी द्वारा बताए गए मंत्र तथा नीतियों का पालन करके या स्वयं में इन गुणों को पैदा करने से व्यक्ति अपनी असफलता को सफलता में बदल सकता है।

चाणक्य जी ने अपनी बेहद लोकप्रिय पुस्तक चाणक्य नीति में बहुत सी ऐसी बातें बताएं जिनका अगर सही से नियम पूर्वक पालन किया जाए तो कोई भी व्यक्ति अपने जीवन में कभी भी असफलता का मुंह नहीं देखेगा ऐसे ही कई कार्य इस तरह के भी बताए जिन्हें में इंसान हिचकितछाता है।

लेकिन चाहे स्त्री हो या पुरुष जीवन में आगे बढ़ने के लिए कुछ कार्यों को बेरोकटोक और बेशर्मी से कर लेना चाहिए आज हम आपको कुछ ऐसी ही नीतियों के बारे में बताने वाले हैं जिसे व्यक्ति को बेशर्म होकर करना है।

क्योंकि अगर उसने ऐसा नहीं किया तो संभव है कि उसका भुगतान उसे जीवन भर भरते रहना होगा तो चलिए दोस्तों जानते हैं कौन सी बुक चाणक्य नीतियां हैं।

नंबर एक उधार मांगते समय दोस्तों बताना चाहेंगे कि उधार किसी भी व्यक्ति के जीवन में एक बहुत बड़े ग्रहण की तरह होता है क्योंकि एक बार उधार लेने के बाद यदि आप उसे चुकाने में सक्षम नहीं होते हैं तो यह आपके लिए बड़ी समस्या बन जाता है।

लेकिन जैसा कि चाणक्य जी ने बताया है यदि आपको धन की बेहद आवश्यकता हो तो ऐसी स्थिति में आप किसी से उधार मांगने में बिल्कुल भी शर्म न करें।

मगर यहां पर इसके साथ चाणक्य जी ने यह भी बताया कि जिस तरह से आप अपनी जरूरत के वक्त उधार मांगते हैं उसी तरह आपका बुरा वक्त खत्म होते ही समय से पैसा लौटा देना चाहिए।

बता दें कि जीवन में बहुत सी परेशानियां आती रहती हैं और आमतौर पर ज्यादातर समस्याओं का हल धन ही होता है इसीलिए यह भी बताया कि यदि आप व्यापार आदि करते हैं तो आपको कभी भी धन मांगने में शर्म नहीं करनी चाहिए अन्यथा आप आने वाले समय में यह ने अपने जीवन में तरक्की नहीं कर पाएंगे।

नंबर दो शिक्षा प्राप्त करते समय शिक्षा प्राप्त करते समय आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिस व्यक्ति ने अपने जीवन में शिक्षा प्राप्त करने में शर्म लिहाज दिखाया हमेशा पीछे रहेगा चाणक्य के अनुसार ज्ञान प्राप्त करने में कभी भी किसी से शर्म नहीं करनी चाहिए।

कई बार ऐसा भी देखा जाता है कि छात्र छात्रा की वजह से कोई बात ना समझ में आते हुए भी नहीं पूछते क्यों क्यों लगता है कि ऐसा करने से उनकी बेइज्जती हो जाएगी आपको बताना चाहूंगा कि जो इंसान शिक्षा प्राप्त करने में शर्म आता है अपने जीवन में कभी कोई अच्छी जगह प्राप्त नहीं कर पाता।

इसीलिए जा रहा है कभी नहीं शर्म आना चाहिए तत्काल कुछ भी ना समझ लेना बेहद जरूरी है पति ने दोस्त तुम भोजन करते समय नीतिशास्त्र के महान ज्ञाता आचार्य चाणक्य जी ने अपने नीति ज्ञान में बताया है जो इंसान भोजन करते समय लिहाज एनी शर्म करता है तो वह अपने संपूर्ण जीवन काल में कुछ बड़ा नहीं हासिल कर पाता।

ऐसा बताया जाता है कि इस तरह का व्यवहार करने वाला इंसान अपने जीवन में ज्यादातर और दुख और संकट से घिरा रहता है और ऐसा कहा जाता है कि जो इंसान खुद के लिए इतना सकता है अपने साथ जुड़े अन्य लोगों के लिए भला कर पाएगा इसीलिए कभी भी खाना खाते वक्त शर्म नहीं करनी चाहिए।

दोस्तों अंत में है सबसे इम्पोर्टेन्टअपनी पत्नी से प्यार मांगने में कभी शर्म न करें महिलाएं अक्सर पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा शर्मीली होती है।

और यहां तक कि दोस्तों को अपने पति से भी प्यार मांगने में शर्म महसूस करती हैं तो आप ही आगे बढ़े और अपनी पत्नी से प्यार मांगने में शर्म बिल्कुल ना करें।

वरना दोस्तों यदि आप अपनी पत्नी को प्रेम नहीं करेंगे तो आपकी पत्नी आपको छोड़कर चली जाएगी और इससे बड़ा कष्ट आपके जीवन में कुछ हो ही नहीं सकता।

इसी प्रकार की अच्छी जानकारी रोजाना पढ़ने के लिए हमारे पेज हिंदी नुस्खे को अभी लाइक करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!